Jharkhand Ration Card Yojana Kya Hai 2020 Hindi

नमस्कार दोस्तों आज मैं आपलोगों को Jharkhand Ration Card Yojana के बारे विस्तार से बताने वाला हूँ | इस पोस्ट के माध्यम से आप जानेंगे की इस योजना के तहत कौन – कौन लाभ्यार्थी लाभ उठा रहें हैं | अगर आप लाभ नहीं उठा रहें हैं तो कैसे इस लाभ को लें सकतें हैं |

अगर आपका Ration Card नहीं बना है तो वो हम आपको बताएँगे के कैसे आप घर बैठे Jharkhand Ration Card बना सकतें हैं | अगर Ration Card बन गया है तो क्या आप उस राशन कार्ड का पूर्ण लाभ ले रहें हैं या नहीं |

इसमें आप जानेंगे की राशन कार्ड के प्रकार क्या हैं, कौन से कार्ड पर कितना चावल, गेंहूँ, दाल, चीनी, और किरोसिन तेल मिलता है | अगर आप अपने या किसी अन्य राशन वितरक यानी डीलर का व् विवरण जानना चाहतें हैं तो भी यहाँ से आप जान सकतें हैं |

Read More: How to Apply Atal Pension Yojana

Jharkhand Ration Card Yojana Hindiसबसे पहले हम जान लेतें हैं की Jharkhand Ration Card Yojana के अंतर्गत कितने प्रकार के कार्ड होतें हैं और और उनके लाभार्थी कौन – कौन हो सकतें हैं | आप निचे देख सकतें हैं की राशन कार्ड कितने प्रकार के होतें हैं |

Jharkhand Ration Card के प्रकार 

  • P.H  (लाल कार्ड)
  • AAY (पिला कार्ड)
  • White (सफेद कार्ड)

P.H (लाल कार्ड) में सरकार द्वारा शहरी क्षेत्र के लिए 3 किलो चावल (प्रति यूनिट) , 2 किलो गेहूँ (प्रति यूनिट) और 1लीटर से लेकर 3 लीटर(प्रति कार्ड) तक केरोसिन तेल दिया जाता है इसके आलवे कभी – कभी चीनी और नमक भी दिया जाता है | ग्रामीण क्षेत्र में गेहूँ नहीं दिया जाता है उसके बदले 5 किलो चावल (प्रति यूनिट) दिया जाता है बाकी सब कुछ शहरी क्षेत्र के अनुसार दिया जाता है |

AAY (पिला कार्ड) में सरकार द्वारा शहरी क्षेत्र के लिए 21 किलो चावल (प्रति कार्ड) , 14 किलो गेहूँ (प्रति कार्ड) और 1लीटर से लेकर 3 लीटर(प्रति कार्ड) तक दिया जाता है इसके आलवे कभी – कभी चीनी और नमक भी दिया जाता है | ग्रामीण क्षेत्र में गेहूँ नहीं दिया जाता है उसके बदले में 35 किलो चावल (प्रति कार्ड) दिया जाता है बाकी सब कुछ शहरी क्षेत्र के अनुसार दिया जाता है |

P.H (सफेद कार्ड) में सिर्फ 1 लीटर से लेकर 3 तक (प्रति कार्ड) केरोसिन तेल दिया जाता है चाहे लाभुक शहरी क्षेत्र से हो या ग्रामीण क्षेत्र से |

Jharkhand Ration Card के लाभुक 

लाभुक तीन प्रकार के होतें हैं – Inclusion, Exclusion और White

Inclusion में AAY (पिला कार्ड), और  Exclusion में P.H. (लाल कार्ड) और White में (सफेद) बनता है |

Inclusion में वो लोग आतें हैं जो लोग –

  • 60 वर्ष से अधिक हों और कोई भी सरकारी पेंशन ना लेता हो सिर्फ वृद्धा पेंशन को छोड़कर |
  • वैसे व्यक्ति जो विधवा हो |
  • वैसे व्यक्ति जो अनुसूचित जाति / जनजाति में आता हो |

Exclusion में वो लोग आतें हैं जो लोग –

  • जिनके पास सरकारी नौकरी ना हो
  • जिनके पास रेफ्रीजेटर/एयर कंडिशनर/वाशिंग मशीन ना हो और इसके साथ – साथ तें कमरों से ज्यादा पक्का मकान ना हो |
  • जिनके पास चार पहिया मकान ना हो |
  • जिनके पास 5 एकड़ से अधिक कृषि सिंचित भूमि और 10 एकड़ कुल भूमि से ज्यादा ना हो |

White में वो लोग आतें हैं जो Inclusion और Exclusion के अंतर्गत ना आतें हो |

Jharkhand Ration Card आवेदन कैसे करें 

राशन कार्ड आवेदन करने के लिए इनके अधिकारिक Website पर जा के कर सकतें हैं | इसमें मुख्या महिला होना चाहिए, अगर महिला ना हो तो पुरुष मुखिया हो सकता है |

Document में सिर्फ आधार कार्ड (मुखिया समेत पुरे सदस्य) और बैंक Details (सिर्फ मुखिया का)| जब आपके पास इतने सार Documents हैं तो आप निचे दिए गए Button के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन कर सकतें हैं |

झारखण्ड सरकार राशन कार्ड से सम्बंधित बहुत सारे ऑनलाइन सुविधा दे रह है जैसे –

  • डीलर बदलना
  • परिवार के सदस्य को जोड़ना
  • परिवार के सदस्य को हटाना
  • नाम में सुधार करना
  • कार्ड का प्रकार बदलना
  • मोबाइल नंबर में सुधार या परिवर्तन
  • बैंक अकाउंट नंबर में सुधार या परिवर्तन
  • यूआईडी में सुधार या परिवर्तन

इसके आलावे आप डीलर से सम्बंधित, अनाज वितरण से सम्बंधित, बहुत सारे जानकारियाँ Website के माध्यम से प्राप्त कर सकतें हैं | अगर आपको किसी प्रकार का शिकायत करना हो तो आप वो ऑनलाइन के माध्यम से कर सकतें हैं |

तो Finally मैंने आपको Jharkhand Ration Card से सम्बंधित सारे जानकारियाँ बता दिया हूँ | अगर आपको यह जानकारियाँ अच्छा लगा तो अपने दोस्तों और सोशल मिडिया ग्रुप में शेयर जरुर करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here